01
Nov

हिंदी गुड नाइट कोट्स

23)

रोशनी में साए बनकर साथ चलने वाले तो अंधेरे में गायब हो ही जाते हैंl इसमें नया क्या है?

22)

रहम करो मेरे खुदा – इस दुनिया में कोई है, जो मुझे सच में प्यार करता है, सच्चे दिल से मुझे चाहता है, इस गलतफहमी में जिंदगी बिताने का मौका तो मुझसे कम से कम मत छीन लो मेरे खुदा! रहम करो मुझ पर!

21)

अपनों के भी असली चेहरे घने अंधेरे में ही देखा जा सकता है, रोशनी में नहीं! क्या तुम्हें नहीं मालूम?

20)

सपने ज्यादातर सच नहीं होते , सपने ही बनी रहे जाते हैं l पराए अपने बने ना बने , अपने अक्सर पराए बन जाते हैंl

19)

मांगने के बारे में सोचने का कभी मौका ही नहीं मिला, सब कुछ दिला दिया तुमने जिंदगी देने वाले! अब लेकिन एक चीज मांगती हूं – मेरे रहने के लिए – नहीं नहीं महल नहीं, प्यार भरा एक दिलl दे देना प्लीज!
फिर कुछ नहीं मांगूंगी इसके बादl तुम्हारी कसम!

18)

मेरे एक कमसिन लड़की से एक आयरन लेडी बनने में बड़ा योगदान है जग वालों काl  इन्हीं के बिछाए हुए कांटों पर चली हूं, इन्हीं के लगाए हुए आग में जली हूंl दुआ दूं इन्हें के बद्दुआ समझ में नहीं आताl तुम्हारे पास कोई सुझाव हो तो बताना जरूरl इन्हें इंसाफ मिले ,बस इतना ख्याल रखनाl

17)

चलो कुछ तो काम किया है जग वालों ने! मुझे इंसान से इस्पात तो कम से कम बना ही दिया है जग वालों ने!

16)

मुझसे ना ही पूछो तो ही बेहतर है l क्योंकि, मैं झूठ नहीं बोलती यह तुम भी जानते होl मैं तुम्हें मेरे आंखों में झांक कर देखने को नहीं कहूंगीl क्योंकि, वहां पर तुम्हें तुम ही दिखाई दोगेl मेरे  बिल्कुल सामने खड़े हो ना इसलिएl

शुक्र है खुदा कl, के कोई दिल में झांक कर नहीं देख सकता l वरना, तुम्हें यह पता चल ही जाता कि मेरे दिल में कोई और भी है ,तुम्हारे सिवा l बेशक , वह है अकेलापनl

15)

पहले हंस लिया करो, वजह बाद में ढूंढ लेनाl कोई वजह ना मिले तो उसी बात पर फिर से हंस लिया करो!

14)

मासूम थी मैं l तुम लोगों से अलग थी मैंl आज तुम्हारी वजह से मासूम नहीं हूं मैं l तुम लोगों की तरह ही बन गई हूं मैंl इसलिए मैं माफ कर चुकी हूं तुम्हेंl क्योंकि माफ करके महान बनने का शौक अब मुझे भी है, ठीक तुम लोगों की तरहl

13)

मुझ पर उंगली उठा कर कहा मेरी मासूमियत ने – मुझे सताने वालों को ऐसे कैसे माफ कर दिया तूने? जा इस बात के लिए मुझसे माफी की उम्मीद नहीं करनाl क्योंकि माफ करके महान बनने का शौक तुझे है, मुझे नहींl

12)

तुम कभी भी अकेले नहीं हो – इतना समझ लेनाl कभी दुश्मन बन के , कभी दोस्त बन के हमेशा साथ है – नसीब तुम्हारा!

11)

आंसू और हंसी बस आते जाते रहते हैंl कभी अलविदा नहीं कहते, रुक भी नहीं जाते हैं हमेशा हमेशा के लिएl

10)

बीते हुए लम्हें वापस नहीं आतेl उनके साथ जुड़े हुए यादें वापस नहीं जातेl

9)

दौड़ रहे हैं तेज रफ्तार से नस नस में मेरेl खून के साथ मिलकर मेरेl क्या है यह? कहीं तुम्हारी मोहब्बत तो नहीं?

8)

 साथी हो तुम मेरे, मंजिल नहीं! – इतना समझ लेना,याद हमेशा रखना!

7)

चलो,फिर से एक बार बोलो – आई लव यू!  बोलते जाओ ,बोलते जाओl अब बोलना बंद करो, प्यार करना लेकिन बंद नहीं करनाl प्यार करते जाओ, करते जाओ, करते जाओ – कम से कम अगले जन्म तक!

6)

सिर्फ तुम अकेले ही नहीं जो दुनिया में अकेले आए हो अकेले जाओगेl सब लोग दुनिया में अकेले आते हैं,अकेले ही जाते हैंl दुनिया में लेकिन अकेले रह नहीं पातेl अकेले में भी, मेले में भी तनहा फिर भी रह जाते हैं –  दुनिया में रहने वाले सारे लोग, सिर्फ तुम अकेले ही नहीं!

5)

क्या पत्थर भी कभी इंसान हुआ करते थे? नहीं तो इनके सीने में दफन इतने सारे आंसू आए कहां से और कैसे? जो अक्सर झरने का रूप लेकर बह जाते हैं!

4)

कर्तव्य को उपकार का नाम देने वालों को अपने अधिकार के बारे में सोचने का भी अधिकार नहीं हैl  समझ गए?

3)

किसी के हाथ का साया नहीं,सरताज होना चाहिए सर पर तुम्हारे!

2)

दूसरों को नीचा दिखाने वाला, चापलूसी करने वाला, सहानुभूति की भीख मांगने वाला, दूसरों को खरीद लेने की चाहत रखने वाला –  इन चारों से दूर ही रहो तुम, चैन से सोना चाहते हो अगर तुम!

1) 

रात है, जज्बात हैl अंधेरा, जुगनू, चांद, सितारों के साथ-साथ तुम्हारा भी साथ चाहिए रात भर!