08
Nov

वेलेंटाइंस डे कोट्स इन हिंदी

20)

जी हां l मुझे बहुत कुछ आता हैl जैसे के ,प्यार कबूल करनाl
प्यार करनाl प्यार जताना l प्यार निभानाl और भी बहुत कुछl यकीन ना आए तो खुद आजमा कर देख लोl

19)

बस एक प्यार के सिवा सब कुछ दे दिया है मुझे जिंदगी नेl
मैंने तो लेकिन बस एक प्यार के सिवा कभी कुछ मांगा ही नहीं जिंदगी सेl
लगता है पता नहीं क्यों अब कुछ अलग सा होने वाला है जिंदगी मेंl

18)

दुनिया के सारे रास्तों से लंबे जुदाई के बस दो लम्हे होते हैंl
वह गहराई समुंदर में कहां जो किसी इश्क वाले के नमकीन पानी से भरे हुए आंखों में होते हैं!

17)

भीख में तो मैं नहीं देने वाली किसी को भी इसेl क्योंकि अनमोल है यह दिल मेराl तो फिर? बस छीन लो! कोशिश तो करो कम से कमl Wish you all the best.

16l

चाहत है चाहत का

चाहत है राहत का

चाहत है आहट का…….

15)

कौन चाहता है जुदा करना तुमसे तुम्हारे दिल को ? हमें तो बस याद आने का , याद करने का बहाना चाहिए!

14)

कभी रुक जाते हैं तो कभी तेज चलने लगते हैं l तुम्हारे सामने आते ही मेरे दिल की धड़कने अजीब अजीब से हरकतें करने लगते हैंl आखिर चक्कर क्या है समझ में नहीं आताl कहीं इसी का ही नाम तो इश्क नहीं है?

13)

पता है आज क्या हुआ? मोहब्बत के एहसास के हाथों दोस्ती का पैगाम देकर खुशियों के अनमोल लम्हों ने मेरी जिंदगी के आंगन में भेज दिया है!

12)

वह – मेरे पास तुम्हारी यादें हैंl तुम्हें सीने से लगाने के सिर्फ ख्वाइश ही नहीं, इरादे भी हैंl तुम्हारी हंसी की रोशनी से जिंदगी को रोशन करने के अपने आप से किए हुए वादे हैंl लेकिन तुम्हारे पास क्या है!
हम – बस इन सारी बातों का एहसास है!

11)

क्या उस शहर का नाम मोहब्बत ही है , जहां पर सारे रास्ते दिल से निकल कर दिल तक ही पहुंचते हैं ! जहां पर सपने, हंसी और आंसू बड़े प्यार से अड़ोस पड़ोस में पड़ोसी बनकर रहते हैं! और अनमोल लम्हों से जिंदगी को सजाने का काम करते हैं?

10)

बस, दिल चुराने वाले थे नजर ही तो चुराया है! और तो कुछ चुराया नहीं है जिंदगी में ! फिर मेरी आंखों से नींद क्यों चुरा रहे हो जिंदगी देने वाले? बताओ तो जरा!

9)

बेशक जग वालों का यह शक बेवजह नहीं है कि मुझे किसी से मोहब्बत है! नहीं तो मैं हमेशा ऐसे कैसे खुश रह सकती हूं?
और मुझे यह शक है कि, वह मेरा आशिक कोई और नहीं सिर्फ और सिर्फ तुम होl तुम्हारे साथ बिताए हुए लम्हों के याद आने से मेरा हंस देना, याद नहीं आने से मेरा रो देना – इस बात का सबूत है कि मेरा यह शक बेबुनियाद नहीं हैl

8)

शांति और सुकून के साथ रहना चाहते हो तुम! लेकिन मुझे मेरे घर का ही पता मालूम हैl तो एक काम करो, मेरे घर पर ही चले आओl हो सकता है कि सुकून और शांति तुम्हें यहीं पर मिल जाए!

7)

रोते-रोते हंसने लगते हैं लोगl हारते हारते जीतने लगते हैं लोगl इश्क का रोग लग जाए अगर,तो अनजाने में ही क्या कुछ नहीं कर गुजरते हैं लोग!

6)

क्या उस मोड़ से सब लोग गुजरते हैं,जहां से गुजरने के लिए दिल खोना पड़ता है? और बदले में मिलते हैं कुछ सपने, कुछ अनमोल लम्हे, कुछ हंसी और आशु ,और शायद एक दिल भी!

5)

चलो एक काम करोl तुम्हारा दिल मुझे दे दोl मेरा वाला तुम रख लोl सौदा है मंजूर तो आ जाओ अभी के अभी!

4)

अगर एक प्यार भरा दिल रखते हो तुम सीने में तुम्हारे,तो वह मुझे दे सकते हो! बाकी सब देने के लिए जिंदगी देने वाले खुद हैं ना!

3)

सच में कुछ देना चाहते हो मुझे,तो अपना दिल दे दो! कोई और उपहार मैं किसी से भी नहीं लेतीl

2)

हां, बेशक बह गए थेl  आखिर आंसू ही तो थे!  मौका मिलते ही सच हो गए थेl  आखिर   सपने ही तो थे!  दस्तक दिए सांसों ने तुम्हारेl   शर्मा के पलकों के परदे गिरा दिएl  आखिर  मेरे दो  आंखें  ही तो थे!  

1)

दिल में हो तुम, यादों में भीl अब रखो कदम मेरे जिंदगी के आंगन में भीl  है गुजारिश तुमसे!